crossorigin="anonymous"> Veg Kise Kahte Hai | वेग किसे कहते हैं? - shripalblog

Veg Kise Kahte Hai | वेग किसे कहते हैं?

हेल्लो दोस्तों नमस्कार ! आज की इस पोस्ट में हम जानेगे की वेग क्या है वेग किसे कहते है ? (Veg Kise Kahte Hai), वेग की परिभाषा क्या है तथा वेग का सूत्र क्या होता है ।

Veg Kise Kahte Hai – किसी वस्तु की चाल यह दर्शाती है कि वह किस तेजी से गति कर रही है। उससे इस बात का ज्ञान नहीं होता है, कि वस्तु किस दिशा में गति कर रही है। इससे हम यह भी नहीं बता सकते हैं कि वह कुछ समय पश्चात् किस स्थिति में होगी।

किसी गतिशील वस्तु की यथार्थ स्थिति दर्शाने के लिए हमें उसकी चाल के साथ-साथ उसकी गति की दिशा
का भी ज्ञान होना आवश्यक है।

वेग किसे कहते हैं? Veg Kise Kahte Hai

 (वेग किसे कहते है ?) Veg Kise Kahte Hai

एक निश्चित दिशा में गतिमान वस्तु द्वारा एकांक समय में चली गयी दूरी को वेग कहते है।” अथवा किसी गतिमान वस्तु के विस्थापन में परिवर्तन की दर को उसका वेग कहते है ।

किसी वस्तु का वेग एक निश्चित दिशा में तय की गयी दुरी के बराबर होता है जो एकांक समय वस्तु द्वारा तय की जाती है ।

वेग की परिभाषा ( Veg Ki Paribhasha )

“एकांक समय में किसी वस्तु के विस्थापन को वेग कहते है।” अथवा किसी निश्चित दिशा में एकांक समय में किसी पिंड द्वारा तय की गयी दूरी को वेग कहते है ।

किसी पिण्ड या वस्तु द्वारा एकांक समयान्तराल में तय किया गया विस्थापन उस वस्तु का वेग कहलाता है। वेग एक सदिश राशि है, वेग को (v) से प्रदर्शित करते हैं।

वेग के प्रकार ( veg ke prakar )

सामन्यतः वेग को 6 प्रकार से वर्गीकृत किया जा सकता है –

  1. एकसमान वेग
  2. असमान वेग
  3. औसत वेग
  4. तात्कालिक वेग
  5. सापेक्ष वेग
  6. निरपेक्ष वेग

आइये अब इन्हें विस्तार से जानते है ।

एकसमान वेग –  वह वेग जिसमे समान समयांतरालों में वस्तु के विस्थापन समान होते है, एक समान वेग कहलाता है ।

असमान वेग – यदि कोई गतिमान वस्तु किसी निश्चित दिशा में समान समयान्तरालों में असमान दूरी तय करती है तो वस्तु का वेग असमान वेग कहलाता है ।

औसत वेग – दिए गए समयांतराल में वस्तु के कुल विस्थापन और कुल समयांतराल के अनुपात को उस वस्तु का औसत वेग कहते है ।

औसत वेग = कुल विस्थापन / कुल समयांतराल

तात्क्षणिक वेग – किसी क्षण विशेष पर किसी वस्तु के वेग को उसका तात्क्षणिक वेग कहते है ।

वेग का मात्रक तथा विमीय सूत्र – 

वेग का SI मात्रक मीटर/सेकंड होता है । वेग एक सदिश राशि है । वास्तव में किसी वस्तु का वेग यह बतलाता है की वस्तु कितनी तेज चल रही है और किस दिशा में चल रही है । वेग धनात्मक तथा ऋणात्मक दोनों हो सकता है।

वेग का विमीय सूत्र= विस्थापन का विमीय सूत्र/ समय का विमीय सूत्र

वेग का विमीय सूत्र = [L]/[T]

= [M°LT-¹]

चाल और वेग में अंतर

चाल (Speed) वेग (Velocity)
इकाई समय में गतिमान वस्तु द्वारा  तय की गई दूरी को चाल कहते है । एक निश्चित दिशा में वस्तु द्वारा एकांक समय में तय की गई दूरी को वेग कहते हैं।
चाल एक अदिश राशि है। वेग एक सदिश राशि है।
चाल को मापने के लिए दूरी प्रति समय के नियमानुसार मापा जाता है। वेग को मापने के लिए विस्थापन प्रति समय के नियमानुसार मापा जाता है।
चाल सदैव धनात्मक होती है । वस्तु का वेग धनात्मक, ऋणात्मक तथा शुन्य कुछ भी हो सकता है।
किसी भी वस्तु की चाल उस वस्तु के वेग के बराबर या उससे अधिक होती है। किसी भी वस्तु का वेग उस वस्तु के चाल के बराबर या उससे कम होता है।

FAQ’s

1. वेग की परिभाषा क्या है ?

किसी पिण्ड या वस्तु द्वारा एकांक समयान्तराल में तय किया गया विस्थापन उस वस्तु का वेग कहलाता है।

2. वेग किसे कहते है ?

एक निश्चित दिशा में गतिमान वस्तु द्वारा एकांक समय में चली गयी दूरी को वेग कहते है।

3. वेग कैसी राशि है ?

वेग एक सदिश राशि है ।

4. वेग का मात्रक क्या होता है ?

वेग का SI मात्रक मीटर/सेकंड होता है ।

आज आपने सीखा

आशा है की यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी और अब आप जान गए होंगे की वेग किसे कहते है Veg Kise Kahte Hai, वेग की परिभाषा क्या होती है तथा चाल और वेग में क्या अंतर है । अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई समस्या हो तो हमें कमेंट करके जरुर बताएं हम आपकी मदद जरुर करेंगे । धन्यवाद 

Leave a Comment