crossorigin="anonymous"> मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं? - shripalblog

मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं?

हेल्लो दोस्तों नमस्कार ! इस पोस्ट में आपका स्वागत है । आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं, संभाग क्या होता है । तो अगर आप जानना चाहते है की मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं तो पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े ।

मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं ? उनके नाम क्या-क्या है। ( mp me kitne sambhag hain ) – मध्य प्रदेश 1 नवंबर, 2000 के पहले तक का  भारत का सबसे बड़ा राज्य माना जाता था, किन्तु जब मध्यप्रदेश में से छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण किया गया तो विभाजन के बाद मध्यप्रदेश के ऊपर से सबसे बड़े राज्य होने का दर्जा हट गया।

मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं?

MADHYA PRADESH ME KITNE SAMBHAG HAI

वर्तमान समय में मध्यप्रदेश में कुल 10 संभाग है जिनके नाम निम्न है –

  1. भोपाल
  2. इन्दौर
  3. ग्वालियर
  4. जबलपुर
  5. सागर
  6. उज्जैन
  7. शहडोल
  8. चंबल
  9. रीवा
  10. होशंगाबाद / नर्मदापुरम

संभाग क्या होता है ?

सामान्य भाषा में जिलों के समूह को संभाग कहते हैं। संभाग को अंग्रेजी भाषा में Division भी कहा जाता है इसीलिए कई राज्यों में संभाग को प्रमंडल या डिवीजन (Division) के नाम से भी जाना जाता है । वर्तमान समय में मध्यप्रदेश में संभागों की कुल संख्या 10 है जिसके अंतर्गत नवीनतम जानकारी के अनुसार 55 जिले शामिल है ।

मध्यप्रदेश के संभागों के नाम निम्नलिखित हैं

मध्यप्रदेश में 10 संभाग है जिसके अंतर्गत भोपाल संभाग में कितने जिले हैं? इसी तरह बाकी 9 संभागों में कुल कितने जिले हैं, की जानकारी नीचे दी गयी है । मध्य प्रदेश के किस संभाग में कुल कितने जिले हैं? उसकी सूची निम्नलिखित है।

संभाग का नाम जिलों की संख्या
भोपाल 5
जबलपुर 8
इन्दौर 8
ग्वालियर 5
सागर 6
उज्जैन 7
शहडोल 3
चंबल 3
रीवा 4
होशंगाबाद / नर्मदापुरम 3

 

मध्यप्रदेश के संभाग और उनके जिलों के नाम निम्नलिखित हैं

1 – भोपाल संभाग के जिले (5)

वर्तमान समय में भोपाल संभाग के अंतर्गत कुल 5 जिले- भोपाल, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, तथा विदिशा शामिल हैं। भोपाल संभाग की स्थापना 1 नवम्बर, 1956 में हुई थी। राजनैतिक दृष्टि से भोपाल संभाग बेहद खास है क्योंकि भोपाल मध्यप्रदेश की राजधानी भी है।

  • भोपाल
  • सीहोर
  • रायसेन
  • राजगढ़
  • विदिशा

 

2 – इंदौर संभाग के जिले (8)

इंदौर संभाग का इतिहास तो बहुत गहरा है। जनसँख्या की दृष्टि से इंदौर मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा शहर है साथ ही इंदौर को मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी के रूप में जाना जाता है। इंदौर शहर भारत का सबसे स्वच्छ शहर है ।  इंदौर संभाग में कुल 8 जिले है, जिनके नाम निम्न है-

  •  इंदौर
  • धार
  • झाबुआ
  • अलीराजपुर
  • खरगोन
  • बड़वानी
  • खंडवा
  • बुरहानपुर

3 – ग्वालियर संभाग के जिले (5)

प्राचीन समय में ग्वालियर 1948 से 1956 तक मध्य भारत की राजधानी रहा था लेकिन इसे संभाग और जिले का स्वरुप 1956 में दिया गया। वर्तमान में ग्वालियर संभाग में 5 जिले, 22 तहसील, 24 जनपद पंचायत, 20 विधानसभा क्षेत्र और 2 लोकसभा संसदीय क्षेत्र है। ग्वालियर संभाग के जिलों के नाम निम्नलिखित है।

  • ग्वालियर,
  • शिवपुरी
  • गुना
  • अशोकनगर
  • दतिया

4 – जबलपुर के जिले (8)

जबलपुर संभाग भौगोलिक रूप से राज्य के मध्य भाग में स्थित है। जबलपुर संभाग 1818 के आसपास अस्तित्व में आया था, इस क्षेत्र को मुख्यतः महाकौशल क्षेत्र के नाम से भी जाना जाता है। इसमें आठ जिले शामिल हैं जो अग्रलिखित है-

  • जबलपुर
  • कटनी
  • नरसिंहपुर
  • छिंदवाड़ा
  • सिवनी
  • मंडला
  • बालाघाट
  • डिंडौरी

5 – उज्जैन संभाग के जिले (7)

उज्जैन इतिहास में कभी विक्रमादित्य के राज्य की राजधानी हुआ करता था । उज्जैन संभाग भौगोलिक रूप से राज्य के पश्चिमी भाग में स्थित है। 1 नवंबर 1977 को संभाग बनाया गया। वर्तमान में उज्जैन संभाग के अंतर्गत 7 जिले शामिल है जिनके नाम निम्न है-

  • देवास
  • रतलाम
  • शाजापुर
  • मंदसौर
  • नीमच
  • उज्जैन
  • आगर मालवा

6 – सागर संभाग के जिले (5)

सागर संभाग मध्य प्रदेश के उत्तरी मध्य क्षेत्र में स्थित है। सागर मुख्य रूप से कृषि आधारित है। सागर संभाग की सोयाबीन और गेहूं मुख्य फसलें हैं। सागर संभाग में 5 जिले है जिनके नाम निम्नलिखित हैं-

7 – होशंगाबाद / नर्मदापुरम संभाग के जिले (3)

नर्मदापुरम संभाग की औपचारिक रूप से स्थापना 27 अगस्त, 2008 को हुई थी। इस संभाग अंतर्गत कुल 25 तह्सील एवं 20 जंनपद पंचायत शामिल है। राजनैतिक दृष्टि से यह संभाग 2 लोकसभा संसदीय क्षेत्र होशंगाबाद-नरसिहपुर एवं 10 विधानसभा क्षेत्रो में विभाजित है। इस संभाग में जिलों की संख्या 3 है, जिनके नाम निम्न हैं-

  • होशंगाबाद/ नर्मदापुरम
  • हरदा
  • बैतूल

8 – रीवा संभाग के जिले (4)

प्राचीन समय में रीवा  1947 ई. तक बघेल नरेश की राजधानी रही थी। सन 1956 में मध्यप्रदेश राज्य का गठन हुआ जिसमे विंध्यप्रदेश का विलय कर दिया गया। तब जन्म हुआ रीवा संभाग का, वर्तमान में रीवा में 4 जिले है जिनके नाम निम्नलिखित हैं-

  • रीवा
  • सिंगरौली
  • सीधी
  • सतना

9 – चंबल संभाग के जिले (3)

चंबल संभाग मध्य प्रदेश की चंबल घाटी का एक हिस्सा है। चम्बल संभाग का कार्यालय मुरैना में स्थित है। चंबल नदी, इस क्षेत्र को राजस्थान और उत्तर प्रदेश से अलग करती है। चंबल संभाग में जिलों की कुल संख्या 3 है, जिनके नाम निम्नलिखित है-

  • शिवपुर
  • मुरैना
  • भिंड

10 – शहडोल संभाग के जिले (3)

शहडोल संभाग का नाम मुख्‍यालय शहर शहडोल के नाम पर रखा गया हैं। शहडोल संभाग कोयला एवं गैस की उपलब्‍धता के लिए प्रसिद्ध हैं। शहडोल संभाग में जिलों की कुल संख्या सिर्फ 3 है –

  • शहडोल
  • उमरिया
  • अनूपपुर

मध्य प्रदेश के 10 संभाग के अंतर्गत जिले –

एक नजर में देखें की Madhya Pradesh Mein Kitne Sambhag Hai ?

  • भोपाल संभाग – भोपाल, रायसेन, राजगढ़, सीहोर, विदिशा
  • ग्वालियर संभाग – अशोकनगर, शिवपुरी, दतिया, गुना, ग्वालियर
  • नर्मदापुरम संभाग – हरदा, होशंगाबाद, बैतूल
  • चंबल संभाग – मुरैना, श्योपुर, भिंड
  • इंदौर संभाग – बरवानी, बुरहानपुर, धार, इंदौर, झाबुआ, खंडवा, खरगोन, अलीराजपुर
  • जबलपुर संभाग – बालाघाट, छिंदवाड़ा, जबलपुर, कटनी, मंडला, नरसिंहपुर, सिवनी ,डिंडोरी
  • रीवा संभाग – रीवा, सतना, सीधी, सिंगरोली
  • सागर संभाग – छतरपुर, दमोह, पन्ना, सागर, टीकमगढ़
  • शहडोल संभाग – शहडोल, उमरिया, अनूपपुर
  • उज्जैन संभाग – आगर मालवा , देवास, मंदसौर, नीमच, रतलाम, शाजापुर, उज्जैन

मध्यप्रदेश एक नजर में 

  • संभाग – 10
  • जिले -52
  • तहसील – 341
  • जनपद पंचायत – 313
  • जिला पंचायत – 51
  • नगर पंचायत – 248
  • ग्राम पंचायत – 23044

FAQ’s

1. 2022 में, मध्य प्रदेश में कुल कितने संभाग हैं?

2022 में, मध्य प्रदेश में कुल 10 संभाग हैं

2. मध्यप्रदेश में संभाग कौन कौन से हैं?

भोपाल, इन्दौर, ग्वालियर, जबलपुर, सागर, उज्जैन, शहडोल, चंबल, रीवा, होशंगाबाद / नर्मदापुरम समेत मध्यप्रदेश में कुल 10 संभाग है ।

3. मध्यप्रदेश में कितने संभाग है ?

वर्तमान में मध्यप्रदेश में कुल 10 संभाग है । जिनकी जानकरी इस पोस्ट में विस्तार से दी गयी है ।

4. मध्य प्रदेश का 11 संभाग कौनसा है?

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले को प्रदेश का 11 वां संभाग बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी हैं। रतलाम, मंदसौर, नीमच के साथ ही झाबुआ और अलीराजपुर जिलों को मिलाकर, यह नया संभागीय मुख्यालय का आकार जल्द ही लेगा।

आज आपने सीखा

मध्यप्रदेश में कुल 10 संभाग हैं।  10 संभागों में कुल 52 जिले एवं 341 तहसील हैं. राज्य में कुल 313 जन पंचायत, 51 जिला पंचायत, 248 नगर पंचायत और 2304 ग्राम पंचायत हैं। यह पुरानी जानकारी के अनुसार है

आशा है की यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और अब आप जान गए होगे की मध्यप्रदेश में कितने संभाग है । अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई समस्या है तो हमें जरुर बताएं हम आपकी मदद जरुर करेंगे ।

मध्य प्रदेश से संबंधित अन्य सामान्य ज्ञान एवं अन्य महत्पूर्ण जानकारी भी आप इस वेबसाइट के माध्यम से जान सकते हैं।

1 thought on “मध्यप्रदेश में कितने संभाग हैं?”

Leave a Comment