crossorigin="anonymous"> Lokokti ki visheshtaen | लोकोक्ति की विशेषताएं - shripalblog

Lokokti ki visheshtaen | लोकोक्ति की विशेषताएं

हेल्लो दोस्तों नमस्कार ! इस पोस्ट में आपका स्वागत है आज की इस में हम जानेंगे की लोकोक्ति किसे कहते है लोकोक्ति की विशेषताएं क्या क्या होती है । हिंदी व्याकरण से एग्जाम में यह प्रश्न बार बार पूछा जाता है इसलिए पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े । तो चलिए अब यह पोस्ट शुरू करते है और जानते है, की lokokti ki visheshtaen

लोकोक्ति की विशेषताएँ

lokokti ki visheshtaen  – लोकोक्ति की प्रमुख विशेषताएं निम्न है –

  • संक्षिप्तता
  • स्वतः पूर्णता
  • सारगर्भिता
  • सरलता तथा सजीवता
  • वाच्यार्थत

आइये अब लोकोक्ति की विशेषताएं ( lokokti ki visheshtaen ) को विस्तार से समझते है –

1 . संक्षिप्तता – लोकोक्तियाँ संक्षिप्त होती हैं। ये यद्यपि अपने आप में पूर्ण रहती हैं परन्तु किसी सत्य के आधार पर ये मात्र दृष्टान्त उपस्थित करती हैं। अत: इनका आकार बहुत छोटा रहता है।

2. स्वतः पूर्णता – लोकोक्तियाँ किसी क्रिया या वाक्य पर आधारित न रहकर अपने आप में एक इकाई रहती है। अतः तथ्य, कथ्य और अर्थ की दृष्टि से वे अपने आप में पूर्ण होती है । उनको समझने के लिए किसी प्रसंग या अन्य वाक्य की आवश्यकता नहीं पड़ती।

3. सारगर्भिता– लोकोक्तियाँ किसी कहानी में निहित सत्य पर आधारित रहती है यह सत्य अनुभूत तथा स्वीकृत रहता है। अतः उसको अत्यन्त संक्षेप में सारगर्भित पदों के माध्यम से प्रस्तुत किया जाता है।

4. सरलता तथा सजीवता – लोकोक्तियाँ लोक जीवन से सम्बन्धित अनुभवों पर आधारित रहती है। अपनी स्पष्टता, मधुरता, सहजता तथा सरलता के कारण ये श्रोताओं को प्रभावित करके उनके द्वारा अपने को स्वीकृत करा लेती हैं। लोकोक्तियाँ वस्तुत: लोक मानस की अमूल्य निधि है। अतः लोकमानस की सहजता और सरलता इसमें कूट-कूट कर भरी रहती है।

5. वाच्यार्थत – लोकोक्तियाँ प्राय: वाच्यार्थ का ही बोध कराती हैं। इनमें लाक्षणिकता – प्राय: नहीं रहती। ये अपने वाच्यार्थ द्वारा ही जो कुछ कहना इसके प्रतिकूल मुहावरों में लाक्षणिकता रहती है ।

लोकोक्ति की विशेषता

lokokti ki visheshtaen – लोकोक्ति की प्रमुख विशेषता निम्न है –

  1. लोकोक्ति एक पूर्ण वाक्य होती है।
  2. इसका प्रयोग कथन की पुष्टि के लिए होता है।
  3. यह विशेष संदर्भ में प्रयुक्त होती है और उसका विशेष अर्थ ही लिया जाता है।
  4. लोकोक्ति की उत्पत्ति ‘लोक’ में प्रचलित उक्ति या कहावतो में मानी जाती है ।
  5. लोकोक्ति वाक्य के रूप में प्रयोग होती है ।

लोकोक्ति किसे कहते है ?

साहित्य में प्रचलित वह वाक्यांश जो स्वयं में एक पूर्ण वाक्य होता है, उसे लोकोक्ति कहते है । जैसे – काला अक्षर भैस बराबर ।

ये भी पढ़े – 

लोकोक्ति का अर्थ

लोकोक्ति का अर्थ है – ‘जन समाज द्वारा प्रयोग में लाया जाने वाला कोई परम्परागत कथन’ ।  यह कथन एसा होता है जिसे लोग अपनी बात के समर्थन में प्रयोग करते है अर्थात एक छोटे से वाक्य में बड़ी बात कह देना ।   लोकोक्ति दो शब्दों से मिलकर बना है लोक+उक्ति  । लोकोक्ति को कहावत,जनश्रुति आदि नामों से भी जाना जाता है ।

महत्वपूर्ण लोकोक्तियाँ  उनके अर्थ एवं वाक्यों में प्रयोग

अन्धा पीसे, कुत्ते खाएँ = मेहनत कोई करे और लाभ कोई उठाए ।

प्रयोग – आज न्याय तो कहीं रहा ही नहीं। भ्रष्टाचारी और चापलूस लोगों का बोलबाला है। स्थिति तो यह है कि अन्धा पीसे, कुत्ते खाएँ ।

2. अधजल गगरी, छलकत जाए = गुणहीन व्यक्ति अपने गुणों का अधिक प्रदर्शन करता है ।

प्रयोग- मोहन एक साधारण क्लर्क है। रिश्वत से उसने धन कमा लिया है, तो उसके दिमाग नहीं मिलते । सच है, अधजल गगरी, छलकत जाए ।

3. अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता = बड़े कार्य अकेले व्यक्ति के बूते की बात नहीं होते ।

प्रयोग- मोहन अकेला क्रान्ति नहीं ला सकता। उसे जनता को साथ लेना होगा। अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता ।

4. अन्धेर नगरी चौपट राजा = जहाँ कोई व्यवस्था या न्याय नहीं हो ।

प्रयोग – प्रशासन की बात मत पूछो । वहाँ तो अन्धेर नगरी चौपट राजा की बात चरितार्थ हो रही है ।

5. अपनी गली में कुत्ता भी शेर = अपने घर पर कमजोर व्यक्ति भी स्वयं को ताकतवर समझता है।

प्रयोग – बलदेव अपने घर की छत पर खड़ा होकर रामप्रकाश को गालियाँ बक रहा था । रामप्रकाश ने कहा, अगर ताकत है तो बाहर निकल । अपनी गली में तो कुत्ता भी शेर होता है।

FAQ’s

1. लोकोक्ति की विशेषताएं

लोकोक्ति की प्रमुख विशेषताएं निम्न है - संक्षिप्तता, स्वतः पूर्णता सारगर्भिता

2. लोकोक्ति का अर्थ क्या है ?

लोकोक्ति का अर्थ है – ‘जन समाज द्वारा प्रयोग में लाया जाने वाला कोई परम्परागत कथन’

3. लोकोक्ति किसे कहते है ?

साहित्य में प्रचलित वह वाक्यांश जो स्वयं में एक पूर्ण वाक्य होता है, उसे लोकोक्ति कहते है ।

आज आपने सीखा

आशा है की यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी और अब आप जान गए होंगे की लोकोक्ति की विशेषताएं ( lokokti ki visheshtaen  ) तथा लोकोक्ति किसे कहते है, लोकोक्ति की परिभाषा, लोकोक्ति का अर्थ proverbs in hindi  आदि । अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई समस्या हो या लोकोक्ति को समझने में कोई दिक्कत आ रही है तो हमें कमेंट करके जरुर बताएं हम आपकी मदद जरुर करेंगे । धन्यवाद

Leave a Comment